News Desk

News 4 June 2018

बहुप्रतिक्षित बूढ़ी रोड निर्माण के लिए हुआ भूमिपूजन, मंत्री बिसेन ने कहा हम हर क्षेत्र में कर रहे विकास
जनहित में बूढ़ी रोड की पीडब्ल्यूडी से की गई मांग, नपा करा रही है निर्माण कार्यः- अनिल धुवारे


बालाघाटः- नगरपालिका परिषद बालाघाट द्वारा सोमवार को नगर के 03 वार्डों में लगभग 3.50 करोड़ रूपये की लागत से 05 विकास कार्यों हेतु भूमिपूजन किया गया। सर्वप्रथम वार्ड क्रमाक 05 में समर्थ गैस एजेंसी के पास सिमेंटीकृत सड़क निर्माण हेतु भूमिपूजन किया गया। तत्पश्चात वार्ड क्रमांक 19 में झूलेलाल भवन के पास सिमेंटीकृत नाली हेतु भूमिपूजन सम्पन्न किया गया। इसके पश्चात शाम 5 बजे रानी अवंती बाई से सागौन वन तक बनने वाली सिमेंटीकृत सड़क तथा वार्ड क्रमांक 11 में दो सिमेंटीकृत नालियों के निर्माण के लिए भूमिपूजन कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।
ज्ञात हो कि नगरपालिका परिषद बालाघाट क्षेत्रांतर्गत उपनगरीय क्षेत्र बूढ़ी पहुंच मार्ग का सोमवार को मध्यप्रदेश शासन के किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन के मुख्य आतिथ्य में भूमिपूजन सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता नगरपालिका अध्यक्ष श्री अनिल धुवारे ने कीें। वहीं इस अवसर पर विशेष अतिथी के रूप में भाजपा जिला अध्यक्ष श्री रमेश रंगलानी,, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री राजकुमार रायजादा,, नगरपालिका उपाध्यक्ष श्रीमती वीणा कनौजिया, भाजपा नगर अध्यक्ष श्री सुरजीतसिंह ठाकुर, भाजपा युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष श्री गजेंद्र भारद्वाज, लोक निर्माण विभाग के सभापति श्री विनय बोपचे, पार्षद श्री छबिराम नागेश्वर, रामभाऊ पंचेश्वर, मनोनित पार्षद श्री अमित बैस, श्री निर्मल कल्लू राधेश्याम सोनी पूर्व पार्षद डाॅ. शिव कावरे, पूर्व पार्षद श्रीमती मंजू विश्वकर्मा, पूज्य सिंधी पंचायत के अध्यक्ष श्री घनश्याम दास चावला, समाजसेवी तथा वार्ड क्रमांक 19 के भाजपा वार्ड अध्यक्ष श्री नीलू पिपलेवार, श्री राकेश नारंग, श्री गोपाल मंगलानी सहित अनेक गणमान्य नागरिक तथा नगरपालिका के समस्त पार्षदगण उपस्थित रहें। इस अवसर पर मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री गजानन नाफड़े, सहायक यंत्री श्री अभिषेक शिवहरे, उपयंत्री श्रीमती अंशिका चैहान, श्री अभिलाष श्रीवास, सुश्री रूचिता साहू, सुश्री, श्रुति शुक्ला सहित नगरपालिका परिषद बालाघाट के समस्त अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। इसी प्रकार वार्ड क्रमांक 1,11,12,13,14 में आयोजित बहुप्रतिक्षित बूढ़ी पहंुच मार्ग के भूमिपूजन के अवसर पर श्रीमती क्षमा मुकुंद बंसोड़, श्री रामलाल बिसेन, श्रीमती सरिता केवल सोनेकर, श्री सिद्धार्थ शेण्डे, तथा श्री यासिन खान द्वारा कार्यक्रम का संचालन किया गया। इस अवसर पर श्री संतोष जैसवाल, श्रीमती रेखा ठाकुर, श्रीमती गौरी राजेश लिल्हारे, श्रीमती लक्ष्मी विनय जैसवाल, श्री ललित चैके, श्री मनोज अहिरकर, श्रीमती नंदनी वर्मा, श्रीमती सारिका रामलाल बिसेन, सुश्री उषा धुवारे, श्रीमती कृष्णा सिंह, श्री यशवंत लिल्हारे, श्री महेंद्र रामटेक्कर ,श्री साबिर शेख, श्री राजेश लिल्हारे, सहित समस्त वार्ड पार्षदों द्वारा नगर को मिलने वाली इस सौगात के लिए केबिनेट मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन, नगरपालिका अध्यक्ष श्री अनिल धुवारे तथा उपस्थित अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया गया।
कार्यक्रम की श्रृंखला में सर्वप्रथम वार्ड क्रमांक 05 में स्थानीय नागरिकों को संबोधित करते हुये मंत्री श्री बिसेन ने कहा कि किसी भी क्षेत्र के विकास में वहां के प्रबुद्ध नागरिकों की अहम भूमिका होती है। यह क्षेत्र लगभग अविकसित क्षेत्र था संघर्ष करते हुये यहां के नागरिकों द्वारा सभी सुविधाओं हेतु स्थानीय निकाय का ध्यानाकर्षण कराया गया तथा उन्हें वे सुविधायें भी मिलीं। किन्तु यह भी समझने वाली बात है कि हम काॅलोनाइजर्स से भूमि लेते समय सभी मूलभूत आवश्यकताओं की चर्चा क्यों नही करते। काॅलोनाइर्ज एक्ट में उन्हें अपने ग्राहको को पहुंच मार्ग वह भी सिमेंटीकृत, गंदे पानी की निकासी के लिए नालियों तथ विद्युत की व्यवस्था का प्रावधान है। लेकिन बहुतायत में काॅलोनाइजर्स इस शर्त का पालन नहीं करते और बाद में इसका भार स्थानीय निकाय को झेलना पड़ता है। वर्तमान में विद्युत व्यवस्था हेतु जनभागीदारी से कार्य कराये जाते हैं जिसमें कुल खर्च का आधा भाग स्थानीय निकाय तथा आधा खर्च स्थानीय निवासीयों को देना पड़ता है। किन्तु कुछ स्थानों पर जहां विद्युत व्यवस्था हेतु स्थानीय निवासीयों की स्थिति इस योग्य नहीं है कि वे आर्थिक बोझ सहन कर सकें शासन नियमों को शीथिल भी करती है। उन्होंने बताया कि अब सरकार ने निर्णय लिया है कि सिमेंटीकृत विद्युत पोल नहीं लगाये जायेगें क्योकि उनकी ऊंचाई कम होती है तथा ज्यादातर लोग एक मंजिला या अपनी सुविधा के अनुसार दो मंजिला मकान बनाते हैं तथा विद्युत पालों की उंचाई कम होने के कारण विद्युत तार रूकावट बनते हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि वर्तमान में सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में 16000 करोड़ रूपये की लागत से सौभाग्य योजना का संचालन किया जा रहा है जिसके अंतर्गत दिसबंर 2019 तक हर घर में बिजली देने का काम पूरा कर लिया जायेगा। इसी प्रकार बहुप्रतिक्षित बूढ़ी रोड के भूमिपूजन के अवसर पर श्री बिसेन ने कहा कि अपने अधिकारों के लिए जनता तथा जनप्रतिनिधियों को सड़क पर आना ही पड़ता है। और अगर हमारी जनता हमसे उम्मीद नहीं करेगी तो किससे करेगी? आखिर उन्होंने हम पर विश्वास जता कर हमें ऐसे स्थान पर पहुंचाया है कि हम सरकार के समक्ष इनकी मांगों को रख सकें। और इसलिये हमने माननीय मुख्यमंत्री जी से मुख्यमंत्री अधोसरंचना के तहत इस सड़क के लिए 2.98 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत कराई। इसमें इस क्षेत्र की जनता का संघर्ष भी उतना ही जिम्मेदार है। 
इस अवसर पर नगरपालिका अध्यक्ष श्री अनिल धुवारे ने कहा कि बूढ़ी रोड का बनाया जाना नगरपालिका के लिए प्रतिष्ठा का विषय बन गया था। हालांकि यह सड़क नगरपालिका के अधीन नहीं थी यह सड़क मूलतः पीडब्ल्यूडी के अधीन थी, इस सड़क की जर्जर हालत को लेकर यहां के रहवासियों द्वारा अनेक बार नगरपालिका में शिकायत दर्ज कराई गई। अंततः हमारी परिषद ने निर्णय लिया कि इस सड़क से लगभग 5 वार्ड के नागरिक प्रभावित होते हैं और इसे बनाया जाना अत्यंत आवश्यक हैं । इसलिये हमने पीडब्ल्यूडी से इस सड़क के हस्तांतरण के लिए आवश्यक कार्यवाही करते हुये इस सड़क की मांग की और अब नगरपालिका परिषद बालाघाट इस सड़क को 2.98 लाख रूपये की लागत से बनाने जा रही है। अगले एक महिने की भीतर यह सड़क बनकर आवागमन के लिए तैयार हो जायेगी। लेकिन कभी-कभी दुख होता है जब जनता बिना सत्यता जाने हम पर आरोप-प्रत्यारोप करती है। हमें बहुत दुख हुआ जब एक समय यहां के रहवासियों द्वारा नगरपालिका मुर्दाबाद के नारे लगाये गये। जबकि हमारे द्वारा कार्यवाही जारी थी हमने इस सड़क को बनाने के लिए हर संभव प्रयास किया और अंततः हम सफल भी हुये हैं। बस नगर के नागरिकों से अपील है कि जो विश्वास आपने हम पर जताया है उसे बनाये रखें।
सोमवार को सम्पन्न हुये विकास कार्यों के भूमिपूजन के तहत वार्ड क्रमांक 1, 11, 12,13,14 से होकर गुजरने वाली स्थानीय रानी अवंती बाई चैक से सागौन वन तक लगभग 2375 मीटर लम्बाई तथा 2.98 करोड़ रूपये की लागत से बनने जा रही सिमेंटीकृत सड़क के निर्माण के लिए सोमवार को भूमिपूजन सम्पन्न होगा। भूमिपूजन के पश्चात शीघ्रता से इस सड़क के निर्माण कार्य को पूरा किया जायेगा। वहीं सोमवार को ही वार्ड क्रमांक 11 में ही लगभग 9.98 लाख रूपये की लागत से 400 मीटर नाली निर्माण , वार्ड क्रमांक 11 में ही लगभग 3.50 लाख रूपये की लागत से सिमेंटीकृत नाली निर्माण, वार्ड क्रमांक 19 में लगभग 7.53 लाख रूपये की लागत से बनने वाली 300 मीटर नाली निर्माण तथा वार्ड क्रमांक 05 में लगभग 18.02 लाख रूपये की लागत से बनने वाली 550 मीटर सिमेंटीकृत सड़क निर्माण के लिए भूमिपूजन किया गया। 

Consumer Desk


Map