News Desk

News 13 June 2018

प्रदेष भर में हुआ मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना का शुभारंभ


नगरीय क्षेत्र में मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के तहत हितलाभ वितरण कार्यक्रम नपा में हुआ सम्पन्न
       एलईडी के माध्यम से भोपाल से कार्यक्रम के शुभारंभ का किया गया सीधा प्रसारण
बालाघाटः- नगरपालिका परिषद बालाघाट में बुधवार को मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजनान्तर्गत विभिन्न विभागों के तहत पंजीकृत असंगठित कर्मकारों को हितलाभ प्रदाय किये जाने हेतु वृहद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में असंगठित कर्मकारों को विभिन्न योजनाओं के तहत लाभान्वित भी किया गया। इस कार्यक्रम में हितग्राहियों को जहां एक ओर श्रमिक स्मार्ट कार्ड का वितरण किया गया। वहीं विभिन्न योजनाओं जैसे प्रसूती सहायता योजना, अनुग्रह सहायता योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना जैसी अनेक योजनाओं का लाभ भी दिया गया। वहीं पांच असंगठित श्रमिकों को ई-रिक्षा प्रदाय किये जाने संबंधी स्वीकृति पत्र का वितरण भी किया गया। तथा एक हितग्राही को उपस्थित अतिथियों द्वारा ई-रिक्षा प्रदाय किया गया। कार्यक्रम के दौरान भोपाल से मुख्यमंत्री श्री षिवराजसिंह चैहान द्वारा मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल योजना) के सम्पूर्ण मध्यप्रदेष में एक साथ शुभारंभ तथा प्रदेष की जनता के नाम संबोधन का एलईडी के माध्यम से सीधा प्रसारण भी किया गया।
ज्ञात हो कि 13 जून को मध्यप्रदेष में एक साथ मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना का शुभारंभ प्रदेष के मुख्यमंत्री श्री षिवराजसिंह चैहान के हस्ते भोपाल से किया गया। नगरीय क्षेत्र बालाघाट में यह कार्यक्रम नगरपालिका परिषद बालाघाट कार्यालय में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम मध्यप्रदेष शासन के किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री गौरीषंकर बिसेन के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न हुआ। वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता नगरपालिका अध्यक्ष श्री अनिल धुवारे ने की । इस अवसर पर विषेष अतिथी के रूप में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रेखा बिसेन, जिला केंद्रिय सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री राजकुमार रायजादा, भाजपा जिला अध्यक्ष एवं पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री रमेष रंगलानी, नगर पालिका उपाध्यक्ष श्रीमती वीणा कनौजिया, पार्षद श्रीमती सरिता केवल सोनेकर, श्रीमती रेखासिंह ठाकुर, श्रीमती गौरी राजेष लिल्हारे, श्रीमती भूमेष्वरी रेखलाल तिवड़े,श्रीमती नंदनी मनोज वर्मा, श्रीमती अलका महेंद्र रामटेक्कर, श्री विनय बोपचे, श्री मनोज अहिरकर, श्री रामलाल बिसेन, श्री छबिराम नागेष्वर, श्री यासिन खान, श्री रामभाऊ पंचेष्वर, श्री सुनील खोटेले, तथा समस्त वार्ड के पार्षदगण उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम में मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री गजानन नाफड़े, सहायक यंत्री श्री अभिषेक षिवहरे, कार्यालय अधीक्षक श्री बी.एल. लिल्हारे, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिषन के सिटी मेनेजर श्री चंदन प्रजापति, योजना विभाग प्रभारी श्री वाचस्पति त्रिपाठी, स्वास्थ्य विभाग प्रभारी श्री प्रदीप परांजपे, समग्र सुरक्षा विस्तार अधिकारी सुश्री दिव्या गनवीर, श्री आर.एल. राहंगडाले सहित नगर पालिका के समस्त कर्मचारीगण तथा नगर के अनेक गणमान्य नागरिक भी उपस्थित रहे।
ज्ञात हो कि असंगठित कर्मकारों के कल्याण एवं उनके आर्थिक, सामाजिक उत्थान हेतु मध्यप्रदेष शासन द्वारा विभिन्न विभागों के अंतर्गत अनेक योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। इन योजनाओं के तहत पात्र हितग्राहियों को लाभ वितरण करने के उद्देष्य से नगरपालिका परिषद बालाघाट कार्यालय प्रांगण में 13 जून को एक वृहद कार्यक्रम का आयोजन किया। इस कार्यक्रम में हितग्राहियों को जहां एक ओर श्रमिक स्मार्ट कार्ड का वितरण किया गया। वहीं विभिन्न योजनाओं जैसे प्रसूती सहायता योजना, अनुग्रह सहायता योजना, जैसी अनेक योजनाओं का लाभ भी दिया गया।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुये नगरपालिका अध्यक्ष श्री अनिल धुवारे ने कहा कि हमारी सरकार गरीबों के उत्थान और उनके विकास को ध्यान में रखते हुये योजनाओं का सृजन करती है। गरीबों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने के लिए वर्तमान मेें सरकार द्वारा अनेक कल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। वहीं आज पूरे देष में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बेघर तथा कच्चे मकान में रहने वाले नागरिकों को अपना स्वयं का पक्का मकान उपलब्ध कराने की योजना के तहत ढाई लाख रूपये का अनुदान निषुल्क प्रदान किया जा रहा है। यह एक ऐसा अनुदान है जिसे हितग्राही को वापस नहीं करना है। वे इस राषि का पूरा उपयोग करते हुये अपना पक्का मकान बना रहे हैं। इस अभिनव योजना ने हजारों लाखों परिवारों के चेहरे पर मुस्कान बिखेर दी है। हमारी सरकार नागरिकों की बुनियादी आवष्यकताओं को पूरा करने का हर संभव प्रयास कर रही है।
हर पंजीकृत श्रमिक को मिलेगा उसका हकः- मंत्री श्री बिसेन
वहीं कार्यक्रम के मुख्य अतिथी कृषि मंत्री श्री गौरीषंकर बिसेन ने कहा कि हमने पंडित दिनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानववाद की अवधारणा को धरातल पर साकार करने के लिए अंतिम छोर के अंतिम व्यक्ति तक मूलभूत सुविधाओं को आसानी से उपलब्ध कराने के लिए अनेक योजनाओं का सृजन भी किया और उनका सफल संचालन भी किया जा रहा है। श्री बिसेन ने कहा कि हमारी सरकार प्रदेष के हर नागरिक के सर्वांगीण विकास के कर्तव्यबद्ध है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के तहत जो हितग्राही छूट गये उन्हें भी इस योजना में शामिल किया जायेगा। तथा हर गरीब को उसके हक का लाभ जरूर मिलेगा। उन्होंने कहा कि गरीबों को राज्य सरकार अब केवल 200 रूपये में महिने भर की बिजली देने की तैयारी कर रही है। जुलाई माह से गरीबों के बच्चों की पढ़ाई की फीस भी राज्य शासन भरेगी। महिला बहनों को उनके प्रसूती काल के दौरान 4 हजार तथा प्रसूती के पष्चात 12 हजार रूपये की सहायता राषि भी दी जायेगी। परिवार में मृत्यु होने पर 5 हजार रूपये की सहायता राषि अंत्येष्टी हेतु दिये जायेंगे। उन्होंने बताया कि असंगठित श्रमिक के रूप में पंजीकृत हर परिवार को इस योजना के तहत मिलने वाली हर सुविधा का लाभ मिलेगा। श्री बिसेन ने कहा कि श्रमिक पंजीयन हर उस व्यक्ति का हो सकता है। जो किसी न किसी प्रकार के श्रम के कार्य में संलग्न हो। तथा अपने परिवार की आजीविका चलाने हेतु मजदूरी कर रहा हो। इस श्रेणी में ढाई एकड़ तक के खेतीहर किसान भी पात्र होगें।
 

Consumer Desk


Map