News Desk

News 15 June 2018

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत ऋण प्राप्त करने हेतु नगरपालिका में आवेदन आमंत्रित


बालाघाटः- मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना तथा मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के तहत शहरी क्षेत्र के बेरोजगारों के स्वरोजगार स्थापित किये जाने हेतु ऋण प्राप्त करने नगरपालिका परिषद बालाघाट में आवेदन आमंत्रित किए गए हैं।
उक्त संबंध में जानकारी देते हुये मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री गजानन नाफड़े ने बताया कि शहरी बेरोजगारों के लिये राज्य शासन द्वारा स्वरोजगार स्थापित करने चलाई जा रही योजना मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना तथा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत ऋण प्राप्त कर युवा अपने आजीविका संवर्धन कर सकते हैं। तथा अपने पारिवारिक आर्थिक स्थिति में अभूतपूर्व परिवर्तन ला सकते है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के तहत 18 से 55 आयु वर्ग के बीपीएल कार्डधारी, राष्ट्रीय खाद्यान मिषन के अंत्योदय/प्राथमिक परिवार के सदस्य, हाथठेला चालक एवं साइकिल रिक्षा चालक, पथ विक्रेता, केष षिल्पी, तथा शहरी घरेलू कामकाजी महिलायें जिन्होंने नगरीय निकायों में पंजीयन कराया हो अधिकतम 50 हजार रूपये के ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं। जिसमें शासन द्वारा वित्तीय सहायता के रूप में सामान्य वर्ग के लिए अधिकतम 15 प्रतिषत, बीपीएल/अनुसूचितजाति/अनुसूचितजनजाति/अन्यपिछड़ावर्ग(क्रिमीलेयर को छोड़कर)/महिला/अल्पसंख्यक/निषक्तजन/विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्धघुमक्कड़ जनजाति हेतु परियोजना लागत का अधिकतम 50 प्रतिषत या अधिकतम 15 हजार रूपये तथा नगरपालिका में विभिन्न हितग्राहीमूलक योजना के अंतर्गत पंजीकृत हितग्राही को परियोजना लागत का 25 प्रतिषत की वित्तीय सहायता का प्रावधान है। वहीं दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिषन के क्रियान्वित शहरों के बीपीएल परिवारों को बैंक द्वारा प्रचलित दर में 07 प्रतिषत से अधिक ब्याज दर की अंतर राषि दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिषन से दी जायेगी। ऋण की अवधि अधिकतम 07 वर्ष होगी। इस योजना के तहत समाज के सबसे गरीब वर्ग को कम लागत के उपकरण तथा कार्यषील पूंजी उपलब्ध करायी जायेगी तथा हाथठेला चालक, साइकिल रिक्षा चालक, पथ विक्रेता, केष षिल्पी एवं शहरी घरेलू कामकाजी महिला के पंजीकृत सदस्यों को कौषल उन्नयन का प्रषिक्षण भी दिया जायेगा।
इसी प्रकार मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत 50 हजार रूपये से अधिक तथा अधिकतम 10 लाख रूपये तक का व्यक्तिगत अथवा समूह ऋण प्राप्त किया जा सकता है। इस योजना के तहत व्यक्तिगत ऋण हेतु 18 से 45 आयु वर्ग के तथा समूह ऋण हेतु 18 से 50 आयु वर्ग के आवेदक पात्र होगें। आवेदक को न्यूनतम पांचवी कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए। आवेदक आयकर दाता न हो तथा पहले से किसी उद्योग तथा व्यापार में संलग्न न हो। इस योजना के तहत भी विभिन्न श्रेणियों में वित्तीय सहायता का प्रावधान है। ब्याज अनुदान के विषय में परियोजना लागत का 5 प्रतिषत तथा महिला उद्यमी हेतु 6 प्रतिषत की दर से देय होगी। अथवा दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिषन के क्रियान्वित शहरों के बीपीएल परिवारों को बैंक द्वारा प्रचलित दर में 07 प्रतिषत से अधिक ब्याज दर की अंतर राषि दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिषन की ओर अधिकतम 07 वर्ष तक देय होगी।
 

Consumer Desk


Map