News Desk

News 1 August 2018

मंत्री बिसेन ने संबल योजना के तहत स्मार्ट कार्ड का किया वितरण
नगरपालिका में आयोजित कार्यक्रम में वितरित किये गये लगभग 6000 हजार स्मार्ट कार्ड


बालाघाटः- नगरपालिका परिषद बालाघाट में बुधवार को नगरीय क्षेत्र के असंगठित श्रमिकों को स्मार्ट कार्ड का वितरण किया गया। कार्यक्रम मध्यप्रदेष शासन के किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री गौरीषंकर बिसेन के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न हुआ। वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता नगरपालिका अध्यक्ष श्री अनिल धुवारे ने की। इस अवसर पर विषेष अतिथी के रूप में भाजपा प्रदेष कार्यकारिणी सदस्य श्रीमती मौसम हरिनखेड़े, भाजपा नगर अध्यक्ष श्री सुरजीसिंह ठाकुर, नगरपालिका उपाध्यक्ष श्रीमती वीणा कनौजिया, पार्षद श्रीमती फैहमिदा शेख साबिर, श्रीमती सरिता केवल सोनेकर, श्रीमती गौरी राजेष लिल्हारे, श्रीमती रेखा सुनिलसिंह ठाकुर, श्रीमती अलका महेंद्र रामटेक्कर, श्रीमती लक्ष्मी विनय जायसवाल, श्रीमती नंदनी मनोज वर्मा, श्री रामलाल बिसेन, श्री खेवेन बाहेष्वर, श्री यासिन खान, श्री सिद्धार्थ शेंडे, श्री चित्रवर्ण शुक्ला, श्री मनीष वर्मा, श्री छबिराम नागेष्वर, श्री रामभाउ पंचेष्वर, श्री योगेष बिसेन, श्री अमितसिंह बैस सहित अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। इस अवसर पर मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री गजानन नाफड़े, कार्यालय अधीक्षक श्री बी.एल.लिल्हारे, योजना विभाग प्रभारी श्री वाचस्पति त्रिपाठी, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिषन के सिटी मेनेजर श्री चंदन प्रजापति, राजस्व उपनिरीक्षक श्री आर.एल.राहंगडाले, श्री कमलेष बिजेवार सहित समस्त नगरपालिका कर्मचारीगण तथा हितग्राही उपस्थित रहे।
ज्ञात हो कि मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना (संबंल) के तहत मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना के अंतर्गत पंजीकृत लगभग 6000 हजार हितग्राहियों को बुधवार को नगरपालिका परिषद बालाघाट में आयोजित कार्यक्रम में ‘‘स्मार्ट कार्ड’’ का वितरण किया गया।
कार्यक्रम में भाजपा प्रदेष कार्यकारिणी सदस्य श्रीमती मौसम हरिनखेड़े ने कहा कि भाजपा की सरकार गरीबों और मजदूरों की सरकार है। इस सरकार ने जितनी योजनायें हमारे गरीब भाई-बहनों के लिए लाईं वे सभी कहीं न कहीं इन निम्न आय वर्ग के लोगों के जीवन परिवर्तन में सहायक सिद्ध हो रही है। उन्होंने कहा कि यदि हम योजनायें गिनने बैंठें तो हम पायेगें कि सभी की सभी योजनायें हितकारी तथा हितग्राहीमूलक योजनायें हैं।
वहीं नगरपालिका अध्यक्ष श्री अनिल धुवारे ने कहा कि हमारी सरकार हर वर्ग के व्यक्ति की जरूरत और उसकी आवष्यकताओं को ध्यान में रखकर योजनायें संचालित कर रही हैं। बच्चों की निषुल्क षिक्षा की बात हो या बेघर को घर देने की। प्रसूताओं की सहायता की बात हो या कन्या विवाह सहायता की। हमारी सरकार अनेक योजनायें जनकल्याण में संचालित कर रही है। हमने गत वर्षों में लोगों को और अधिक सक्षम बनाने की दृष्टि से अनेक प्रषिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जिसके माध्यम से हमारे शहरी क्षेत्र के नागरिक प्रषिक्षित होकर अपना स्वयं का व्यवसाय स्थापित कर सके। हमारे द्वारा शहरी घरेलू कामकाजी महिला, हाथठेला रिक्षा चालक, सहित अनेक हितग्राहीमूलक योजनाओं के तहत लोगों को पंजीकृत कर लाभ दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने हमारे निर्धन भाई-बहनों के लिए योजनाओं की झड़ी लगा दी है बस हमें इनका लाभ लेने के लिए आगे आने की आवष्यकता है।


वहीं कार्यक्रम के मुख्य अतिथी केबिनेट मंत्री श्री गौरीषंकर बिसेन ने कहा कि हमने अपने चुनावी घोषणा पत्र में जिन योजनाओं या वादों को शामिल नहीं किया था हमने जनहित में वे योजनायें भी धरातल पर लाई। उन्होंने कहा कि फ्लैट 200 रूपये प्रतिमाह की दर से बिजली उपलब्ध कराने का वादा हमने नहीं किया था। प्रदेष के हर एक नागरिक को उसका अपना पक्का घर देने का वादा हमने नहीं किया था। हमने नहीं कहा था कि हमें जिताइये हम आपकों खाने और रहने की पूरी व्यवस्था करेंगें। हमारी सरकार ने 1 रूपये किलो की दर से गरीब वर्ग के लोगों खाद्यान्न उपलब्ध कराने की योजना पर कार्य किया और अनवरत जारी है। हमने इस बात का भी ध्यान रखा कि कम दर पर खाद्यान्न उपलब्ध कराने से किसान को उसकी फसल का पर्याप्त मूल्य मिलने में दिक्कत न हो इसलिये हमने समर्थन मूल्य में खाद्यान्न किसानों से खरीदा। बल्कि समर्थन मूल्य में भी ईजाफा करते हुये हमने किसान भाईयों का भी ध्यान रखा।
संबंल योजना के संबंध में जानकारी देते हुये श्री बिसेन ने कहा कि इस योजना के विषय में लोगों को अभी भी संषय है। इस योजना में जहां हमने निषुल्क षिक्षा की बात की है। इसका यह अर्थ कतई नहीं है कि विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति से वंचित कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि न केवल निषुल्क षिक्षा मिलेगी अपितु पूरी छात्रवृत्ति भी मिलेगी। साथ ही उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत पंजीकृत हितग्राही को विभिन्न लाभ प्राप्त होंगें। जिसमें वृद्धतम व्यक्ति की मृत्यु पर तत्काल 5000 रूपये की राषि अत्येष्टी हेतु दिये जाने का प्रावधान है। साथ ही इस योजना में सामान्य मृत्यु में 2 लाख रूपये तथा दुर्घटना में मृत्यु होने पर 4 लाख रूपये की राषि मजदूर के परिवार को देय होगी। इस अवसर पर उन्होने 15 अगस्त से प्रारंभ होने वाले आयुष्मान योजना के बारे में भी लोगों को बताया उन्होंने कहा कि हमारी सरकार नहीं चाहती कि कोई भी नागरिक, कोई भी गरीब भाई-बहन उपचार के अभाव में मृत्यु का ग्रास बने इसलिए सरकार द्वारा आयुष्मान योजना के माध्यम से अनेक गंभीर बीमारी का इलाज निषुल्क करवाया जायेगा।
 

Consumer Desk


Map