News Desk

News 2 August 2018

 नगरपालिका करेगी पशु पंजीयन, यातायात में नही होगी बाधा

बालाघाटः- नगर में यहां वहां घूम रहे तथा यातायात में बाधा पंहुचा रहे पशुओं पर नगरपालिका बड़ी कार्यवाही करने जा रही है। इस कार्यवाही के तहत नगरपालिका नगरीय क्षेत्र में घूम रहे समस्त पशुओं का पंजीयन अनिवार्य करने जा रही है। उक्ताषय की जानकारी नगरपालिका के स्वास्थ्य विभाग प्रभारी श्री प्रदीप परांजपे ने दी। 
श्री परांजपे ने बताया कि नगरपालिका द्वारा शहर में घूम रहे आवारा पशुओं को पकड़कर अनेक बार नगरपालिका के कांजी हाऊस में लाया जाता है। आवारा घूम रहे पशुओं पर नगर पालिका जुर्माना भी लगाती है। अपने पशुओं को छुड़वाने के लिए उनके मालिक आते हैं तथा फिर दोबारा आवारा घूमने के लिए खुला छोड़ देते हैं। पषु मालिकों के व्यवहार में कोई परिवर्तन न आने पर नगरपालिका परिषद बालाघाट ने पीआईसी के माध्यम से प्रस्ताव पारित कर शहर के समस्त पशुओं का पंजीयन अनिवार्य करने का निर्णय लिया है। पंजीयन के दौरान हर पशु को विषेष पहचान हेतु उनके कानों में टैग लगाया जायेगा जिससे टैग नम्बर के आधार पर पशु के मालिक की पहचान हो सकेगी ऐसे पशुओं की जानकारी भी संधारित की जायेगी। विषेष टैग के माध्यम से पशु मालिक की पहचान होने से उसके मालिक को पशु के आवारा पाये जाने की सूचना दी जा सकेगी। जिन पशुओं के कान में पहचान टैग नहीं लगा होगा उन्हें गौषाला भेजने की कार्यवाही की जावेगी। साथ ही पंजीकृत पशुओं के शाम 7 बजे के बाद आवारा घूमते पाये जाने पर पीआईसी के पारित प्रस्ताव के नियमानुसार अनुसार कार्यवाही की जावेगी।
ज्ञात हो कि शहर में अनेक नागरिकों द्वारा पशुपालन का कार्य किया जा रहा है। किन्तु उनके द्वारा पशुओं को बांधने की उचित व्यवस्था नहीं की जाती । नतीजतन पशु यहां वहां आवारा घूमते रहते हैं तथा यातायात में बाधा पहंुचाते हैं। पशुओं पर नियंत्रण तथा उनके संरक्षण के उद्देष्य से नगरपालिका परिषद बालाघाट द्वारा पशु पंजीयन का प्रस्ताव पारित किया गया है। नगरपालिका द्वारा इन पशुओं के पंजीयन तथा टैग लगाये जाने हेतु प्रति पशु 60 रूपये की दर निर्धारित की गई है। विषेष पहचान टैग के माध्यम से पशु तथा उसके मालिक के पहचान करने में सुविधा हो सकेगी। 
 

Consumer Desk


Map